जानिए कौन है भारत के सबसे बड़े lithium ion बैटरी के मैन्युफैक्चरर

Lithium आयन बैटरी के सबसे बड़े मैन्युफैक्चरर

lithium आयोन बैटरी एनर्जी स्टोरेज और इलेक्ट्रिक मोबिलिटी का भविष्य हैं। इनके कन्वेंशनल लीड एसिड बैटरी के मुकाबले कई सारे फायदे हैं, जैसे की हाइ एनर्जी डेंसिटी, लाइट वेट, फास्ट चार्जिंग, लाँग लाइफ, और लो मेंटेनेंस। लिथियम आयोन बैटरी कंस्यूमर इलेक्ट्रानिक्स, इलेक्ट्रिक वेहिकल्स, टेलीकॉम, और रेनवेबल एनर्जी सेक्टर में काफी इस्तेमाल किए जाते हैं।

इंडिया में lithium आयोन बैटरी मार्केट का बहुत बड़ा पोटेंशियल है, क्योंकि यह दुनिया का पांचवा सबसे बड़ा कार मार्केट है और यहाँ क्लीन और सस्टेनेबल एनर्जी सोर्स की भी बढती डिमांड है। लेकिन भारत में lithium मिनरल्स के बड़े रिजर्व नहीं हैं और इसलिए हमे ये दुसरे देशों से इम्पोर्ट करना पड़ता है। फॉरेन सप्लायर पर डिपेंडेंसी कम करने और लिथियम आयोन बैटरी की डोमेस्टिक मैनुफैक्चरिंग को बढ़ने के लिए, भारत सरकार ने कई पहल किए हैं, जैसे की बैटरी मेकर को इंसेंटिव, सब्सिडीज, और टैक्स बेनेफिट्स देना।

1. अमर राजा बैटरी LTD

अमर राजा बैटरी LTD
अमर राजा बैटरी LTD

अमर राजा बैटरी ऍल्‌टीडी (अर्बल) इंडिया के सबसे बड़े बैटरी मैनुफैक्चरर में से एक है, जो आटोमोटिव, इंडस्ट्रियल, और टेलीकॉम सेगमेंट में उपलब्ध है। अर्बल ने जॉन्सन कंट्रोल इंक., यूऍस्‌ए, के साथ जॉयंट वेंचर बनाया है अलग अलग उपयोग के लिए लीड एसिड बैटरी बनाने के लिए। अर्बल ने Leclanché SA, स्विजरलैंड, के साथ भी स्ट्रेटेजिक पार्टनरशिप की है, इलेक्ट्रिक वेहिकल्स और ग्रिड-स्केल मार्केट के लिए lithium आयोन बैटरी और एनर्जी स्टोरेज सॉल्यूशन बनाने के लिए। अर्बल ने आंध्र प्रदेश में एक लिथियम आयोन सेल मैनुफैक्चरिंग प्लांट लगाया है जिसका एनुअल कैपासिटी 500 MWH का है।

2. लोग9 मैटीरियल

लोग9 मैटीरियल
लोग9 मैटीरियल

लोग9 मैटीरियल एक नैनोटेक्नोलॉजी स्टार्टअप है जो ग्राफीन-बेस्ड मैटीरियल और डिवाइस में स्पेशलाइज़ करता है। लोग9 मैटीरियल ने एक नया अल्यूमिनियम-एयर बैटरी टेक्नोलॉजी डेवलप किया है, जो पानी को इलेक्ट्रोलाइट के तौर पर इस्तेमाल करता है और lithium आयोन बैटरी से 10 गुना ज्यादा एनर्जी डेंसिटी देता है। कंपनी का दावा है की इसकी बैटरी एक इलेक्ट्रिक कार को सिंगल चार्ज पर 1000 km तक चला सकती है। लोग9 मैटीरियल ने कोरोनॉवेन भी लांच किया है, एक UV-C डिसिंफेक्शन डिवाइस जो 10 मिनट में 99.9% कोरोना वायरस और दुसरे पैथोजेन्स को मार सकता है।

3. एक्साइड इंडस्ट्रीज LTD

एक्साइड इंडस्ट्रीज LTD
एक्साइड इंडस्ट्रीज LTD

एक्साइड इंडस्ट्रीज LTD इंडिया का सबसे बड़ा लीड एसिड बैटरी मैनुफैक्चरर है, जिसका मार्केट शेयर 60% से ज्यादा है। एक्साइड के प्रोडक्ट्स का डाइवरसिफाइड पोर्टफोलियो है, जिसमें आटोमोटिव से लेकर इंडस्ट्रियल और सोलर बैटरी टाक शामिल हैं। एक्साइड ने lithium आयोन बैटरी सेगमेंट में भी एन्ट्री की है, चौवे पावर होल्डिंग ऍल्‌टीडी, चीना, के साथ जॉयंट वेंचर बनकर लिथियम आयरन फास्फेट बैटरी बनाने के लिए इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर और थ्री-व्हीलर के लिए। एक्साइड ने एनर्जी वाल्ट में भी इनवेस्ट किया है, एक स्विस स्टार्टअप जो ग्रेविटी-बेस्ड एनर्जी स्टोरेज टेक्नोलॉजी इस्तेमाल करता है।

4. लूम सोलर

लूम सोलर
लूम सोलर

लूम सोलर एक लीडिंग सोलर कंपनी है जो रेसीडेंशियल और कमर्शियल ग्राहकों को इनोवेटिव प्रोडक्ट्स और सॉल्यूशन देती है। लूम सोलर ने इंडिया का पहला लिथियम आयोन सोलर इनवर्टर बैटरी लांच किया है जो ग्रिड और सोलर पावर सोर्स दोनों से चार्ज हो सकता है। इसमें बैटरी का एफिसिएंसी 95% है और ये बैकअप 10 घंटे टाक दे सकता है। लूम सोलर अपनी वेबसाइट से सोलर पैनल्स, सोलर चार्ज कंट्रोलर, सोलर इनवर्टर, और सोलर एक्सेसरी आनलाइन भी बेचती है।

5. टीवीऍस्‌ लुकास

टीवीऍस्‌ लुकास
टीवीऍस्‌ लुकास

टीवीऍस्‌ लुकास, टीवीऍस्‌ मोटर कंपनी LTD और लुकास इंडस्ट्रीज पीऍल्‌सी (UK), का जॉयंट वेंचर है। टीवीऍस्‌ लुकास आटोमोटिव इलेक्ट्रिकल कंपोनेंट्स का भारत के लीडिंग मैनुफैक्चरर में से एक है। टीवीऍस्‌ लुकास ने lithium आयोन बैटरी बिजनेस में भी वेंचर किया है, तमिल नडु में एक स्टेट-ओफ-दी-आर्ट प्लांट लगाकर जिसका एनुअल कैपासिटी 1 जीडबल्यूहॆच्‌ का है। प्लांट सिलिंड्रिकल और प्रिस्मेटिक सेल्स का उत्पादन करेगा इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर, थ्री-व्हीलर, और फोर-व्हीलर के लिए।

6. ओला इलेक्ट्रिक

ओला इलेक्ट्रिक
ओला इलेक्ट्रिक

ओला इलेक्ट्रिक, इंडिया का सबसे बड़ा राइड-हेलिंग प्लेटफार्म ओला कैब का सब्सिडियरी है। ओला इलेक्ट्रिक इलेक्ट्रिक मोबिलिटी को लेके भारत में बढ़ने का लक्ष्य रखता है, चार्जिंग स्टेशन, बैटरी स्वैपिंग स्टेशन, और इलेक्ट्रिक वेहिकल्स का एक इकोसिस्टम बनकर। ओला इलेक्ट्रिक ने हाल हि में अपना नया इलेक्ट्रिक स्कूटर लांच किया है, जो तमिल नडु में अपने मेगा फैक्टरी में मैनुफैक्चर होगा। जिसकी एनुअल कैपासिटी 10 मिलियन यूनिट्स की है। ओला इलेक्ट्रिक ने यह भी एनोंस किया है की वोह दुनिया का सबसे बड़ा लिथियम आयोन बैटरी प्लांट भारत में लगाएगा जिसका एनुअल कैपासिटी 50 GWH का होगा।

7. ओकाया पावर ग्रुप

ओकाया पावर ग्रुप
ओकाया पावर ग्रुप

ओकाया पावर ग्रुप एक लीडिंग मैनुफैक्चरर है, पावर बैकअप प्रोडक्ट्स का जैसे की इनवर्टर, यूपीऍस्‌ सिस्टम, स्टेबलाइजर, और बैटरी। ओकाया पावर ग्रुप ने lithium आयोन बैटरी सेगमेंट में भी डाइवरसिफाई किया है, अपना खुद का ब्रांड लांच करके लिथियम फेरो फास्फेट बैटरी बनाने के लिए इलेक्ट्रिक वेहिकल्स और एनर्जी स्टोरेज उपयोग के लिए। ओकाया पावर ग्रुप ने संवोदा इलेक्ट्रानिक को (चीन), के साथ पार्टनरशिप की है लिथियम आयोन बैटरी पैक्स का उत्पादन करने के लिए अपने प्लांट में, जो हिमाचल प्रदेश में है।

8. TDSG

TDSG
TDSG

TDSG तोशिबा कॉर्पोरेशन (जापान), डेन्सो कॉर्पोरेशन (जापान), और सुज़ुकी मोटर कॉर्पोरेशन (जापान), का जॉयंट वेंचर है। TDSG को हाइब्रिड और इलेक्ट्रिक वेहिकल्स के लिए इंडिया में लिथियम आयोन बैटरी पैक्स बनाने के लिए इस्तबलिश किया गया था। टीडीऍस्‌जी ने गुजरात में एक प्लांट लगाया है, जिसका एनुअल कैपासिटी 1.1 GWH का है । TDSG अपने बैटरी पैक्स को मारुति सुज़ुकी को सप्लाय करता है, जो की भारत का सबसे बड़ा कार मेकर है।

9. मुनोथ इंडस्ट्रीज लिमिटेड

मुनोथ इंडस्ट्रीज लिमिटेड
मुनोथ इंडस्ट्रीज लिमिटेड

मुनोथ इंडस्ट्रीज लिमिटेड, अनेक कंपनियों का एक डाइवरसिफाइड ग्रुप है। जो केमिकल्स, प्लास्टिक, टेक्सटाइल, और इलेक्ट्रानिक्स में डील करता है। मुनोथ इंडस्ट्रीज लिमिटेड इंडिया का पहला कंपनी बना है जो मोबाइल फोन और दुसरे कंस्यूमर इलेक्ट्रानिक्स के लिए lithium आयोन सेल्स बनता है। मुनोथ इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने आंध्र प्रदेश में एक प्लांट लगाया है, जिसका एनुअल कैपासिटी 200 MWH का है। यह कंपनी अपनी कैपासिटी को 2025 तक 1 GWH तक बढ़ना चाहती है और इलेक्ट्रिक वेहिकल और एनर्जी स्टोरेज मार्केट को भी केटर करना चाहती है।

Leave a comment